स्वागतम ! सोशल नेटवर्किंग का प्रयोग राष्ट्रवादी विचारधारा के प्रचार-प्रसार के लिए करें.

Free HTML Codes

अगरहो प्यार के मौसम तो हमभी प्यार लिखेगें,खनकतीरेशमी पाजेबकी झंकारलिखेंगे

मगर जब खून से खेले मजहबीताकतें तब हम,पिलाकर लेखनीको खून हम अंगारलिखेगें

Saturday, October 8, 2011

हम राष्ट्रवादी हैं इसलिए हम आतंकवादी हैं!

हमारे देश में धर्मनिरपेक्षता की परिभाषा इतनी तेजी से बदल रही है की अगर कुछ वर्षों में इस्लाम इसकी पर्यायवाची बन जय तो कुछ भी संसय नहीं.अगर आज आप राष्ट्रहित की कोई भी बात करते हैं,तो आपको अल्पसंख्यक विरोधी बताना कांग्रेस और तथाकथित कुछ धर्मनिरपेक्ष पार्टियों की प्रवृत्ति बन गयी है.
आज जब संघ प्रमुख मोहन भागवत जी कहते हैं की अन्ना के भ्रष्टाचार विरोधी मुहीम का हम समर्थन करते हैं तो अन्ना से इसपर सफाई मांगी जाती है.इसका मतलब हम क्या समझे?क्या संघ को भ्रष्टाचार विरोधी मुहीम का विरोध करना चाहिए? हम तो हर उस चीज़ का समर्थन करेंगे जो हमारे राष्ट्रहित में है.अगर यह आन्दोलन कांग्रेस चलाती तो भी राष्ट्रवादी लोग उसका समर्थन करते.क्यूंकि यह एक ऐसा दीमक है जो पूरे राष्ट्र को खोखला कर रहा है.
आर.एस.एस. और वि.ही.प. अगर राष्ट्रहित में चलने वाले आन्दोलन को समर्थन करती है तो यह राष्ट्रविरोधी है और अगर अहमद बुखारी इसका विरोध करते हैं तो यह राष्ट्रहित में है.
ऐसा क्यों है,क्योंकि हम राष्ट्रवादी हैं इसलिए हम आतंकवादी हैं.जब हम कभी कहते हैं की लोकतंत्र के पवित्र मंदिर संसद में हमला करने वाले अफज़ल गुरु और मुंबई को लहूलुहान करने वाले कसाब को तुरंत फासी दी जनि चैये तो हमे अल्पसंख्यक और राष्ट्रविरोधी कहा जाता है और आतंकवादियों को समर्थन देने वाला सख्श देश भक्त हो जाता है और मुख्यमंत्री बन जाता है.ऐसा क्यों है,क्योंकि हम राष्ट्रवादी हैं इसलिए हम आतंकवादी हैं
ओसामा बिन लादेन को लादेन जी कहने वाले दिग्विजय,राजा जैसे घपलेवजों को समर्थन देने वाले दिग्विजय ,बाबा रामदेव जैसे देशभक्तों को ठग कहने वाले दिग्विजय तो सही हैं.इन चीजों का विरोध करने वाले हम गलत हैं.ऐसा क्यों है,क्योंकि हम राष्ट्रवादी हैं इसलिए हम आतंकवादी हैं
जब हम पूछते हैं की कश्मीर में कश्मीरी पंडितो को अपने ही घर में शरणार्थी बनाने वालों,सिक्खों को घटी छोड़ने वाले का फरमान जरी करने वालों को दंड क्यों नहीं दिया जा रहा है,तो हमें विद्वेषी कहा जाता है.ऐसा क्यों है,क्योंकि हम राष्ट्रवादी हैं इसलिए हम आतंकवादी हैं.

4 comments:

  1. अगर हम आतंकवादी हो गए तो इनका क्या होगा?

    ReplyDelete